इंतज़ार की घड़ियाँ

aDSC_6853

तेरे इंतजार में पलके बिछाये बैठे हैं।

बस किसी भी पल आ जाएगी तू।

अरमा जगाये बैठे हैं।।

आग की चिंगारी नहीं शोला है तू।

जानते है, फिर भी।

दामन जलाये बैठे हैं ।।

तेरे इंतज़ार में ……. ।।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s