सोच में खोट (Troubled thoughts)

aa1dsc_7007

सोच बदलो….

आज कल यह वाक्य हर आदमी की जबान पर है। खुले में शौच से लेकर विश्विद्यालयों में शैक्षिक उपाधि बाटने तक हर जगह यही जुमला। खान-पान से लेकर कपडे और विमुद्रीकरण तक सिर्फ यही, की सोच बदलो। महिलायों के साथ समाज को शर्मसार करने वाली घटनाये हो तो फिर सोच बदलो। काला बाजार, घूसखोरी, दुराचरण, भ्रष्टाचार, व्यभिचार, सड़न और नैतिक पतन का शर्तिया एक इलाज, सोच बदलो। पढ़ कर ऐसा लगता है जैसे सारा खोट इस हिन्दुस्तानी सोच में है और सदियों से ये सोच कभी बदली ही नहीं।

ऐसा नहीं है समयानुसार हम हिन्दुस्तानियों की सोच में लगातार परिवर्तन हुए है। में कोई इतिहासकार तो नहीं लेकिन जब भी भारत भ्रमण पर निकलता हूँ समय समनांतर भारतीयों की सोच में परिवर्तन देखता आया हूँ। दसवी सदी के भारतीय सोच की झलक आप को खुजराहो में मिल जाएगी। गजनी गौरी, तुग़लक़, मुग़ल और फिर अंग्रेज, सबने भारत की सोच में परिवर्तन किया, पूरे हिन्दुस्तान में इनके उदाहरण मिलेंगे। सोच परिवर्तन नहीं करते तो राज कहाँ से करते? स्वाधीनता के बाद तमाम सरकारों ने सोच परिवर्तन किया। हिन्दुस्तान को अंग्रेजो ने नहीं भारतीयों ने खुद टुकड़े टुकड़े किया। टुकड़ा केवल पकिस्तान या बांग्लादेश नहीं, आरक्षण, धर्म, जाती, और उपजाति पर विभाजन भी खंडता है जो हमने खुद किया। अब फिर हम अपनी सोच परिवर्तन करने निकले हैं।

खोट सोच में नहीं, सोच के पीछे छिपी शक्तियां है। और सोच परिवर्तन होता कैसे है। सोच परिवर्तन का सबसे बड़ा हथियार शिक्षा है। पाठ्यक्रम बदलो सोच अपने आप बदल जाएगी। और यदि आप बदलते पाठ्यक्रम का इतिहास देखे तो खुद समझ जायेंगे की हमारे राजाओ और राजनीतिज्ञों ने कितनी चतुराई से हमारी सोच बदली है। सोच में खोट नहीं, ये तो राज करने का एक हथियार है, और जिसने जिस कुशलता के साथ इसका इस्तमाल किया वो उतना अच्छा राजा बना। यहाँ अशोक और अकबर को याद करना बनता है।

चलिए एक बार फिर सोच बदलते हैं और देखते हैं की ये बदली सोच हमें कहाँ ले जाएगी।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s